• June 23, 2024

डॉ. दर्शन दानू ब्लॉक प्रमुख देवाल के खिलाफ दायर मुकदमा कहीं राजनीतिक षड्यंत्र तो नहीं ?

 डॉ. दर्शन दानू ब्लॉक प्रमुख देवाल के खिलाफ दायर मुकदमा कहीं राजनीतिक षड्यंत्र तो नहीं ?
Sharing Is Caring:

 

कमल अग्रवाल हरिद्वार उत्तराखंड( 24×7)

चमोली /देवाल  (17 जुलाई 2023) ÷ डॉ दर्शन दानू, गढ़वाल विश्वविद्यालय से ही छात्र संघ के सक्रिय नेता रह चुके हैं। महासचिव पद पर रहते हुए उन्होंने “उद्घोष” कार्यक्रम आयोजित करवाया, जिसका मुख्य उद्देश्य प्रशासनिक सेवा में कार्यरत अधिकारियों से छात्र-छात्राओं का संवाद करवाना तथा छात्र-छात्राओं में प्रशासनिक सेवा के प्रति रुचि बढ़ाना रहा है। उस कार्यक्रम से सुर्खियों में रहे 2016 में अपने क्षेत्र देवाल के तमाम् क्षेत्रो के मुख्य बुनियादी सुविधाओं के लिए पिंडारी संघर्ष समिति के अध्यक्ष के रूप में नेतृत्व कर आंदोलन किया क्षेत्र की अनदेखी होने पर आत्मदाह करने का प्रयास किये जिसके लिए 6 घण्टे देवाल हॉस्पिटल में एडमिट रहे, ये था ” समर्पण दानू का क्षेत्र के लिए”

डॉ. दानू पहली बार 2019 में क्षेत्र पंचायत सदस्य का चुनाव लड़कर निर्विरोध देवाल के ब्लाक प्रमुख बने। एक उच्च शिक्षा प्राप्त किए युवा नेता से क्षेत्र की तमाम जनता को अनेकों अपेक्षाएं थीं और उन्होंने उन अपेक्षाओं पर खरा उतरने का हमेशा प्रयास किया। उसके उपरांत उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा । 

 उन्होंने पहली बार सुदूर क्षेत्र घेस में बीडीसी बैठक आयोजित करवाई तथा उसमें स्कूली बच्चों सहित तमाम जनता को बुलाया और सफल संचालन करवाया जिसे पंचायती राज विभाग उत्तराखंड की वेबसाइट में बेस्ट प्रैक्टिसेज में सम्मिलित किया गया। उन्होंने हाल ही में देवाल में कूड़ा वाहन का संचालन करवाया जो नगर निगमों की तरह क्षेत्र पंचायत में पहली बार शुरू किया गया। उन्होंने बीडीसी में विधानसभा की तर्ज पर, जनता से प्रश्न मांग कर, विभागों को प्रेषित किए ताकि बीडीसी बैठक में विभागीय अधिकारी पूर्ण तैयारी के साथ आएं और जनता की समस्याओं का समाधान हो । 

उन्होंने देवाल के एक बच्चे एवं दो वयस्क को सरकार से त्वरित बात करके एयर एंबुलेंस की आवश्यकता होने पर तत्काल उपलब्ध करवाकर देहरादून रेफर करवाया जिनकी जान बचाने का काम किया।

 वर्ष 2013 में आपदा से टूटा पुल जिसको 2019 तक भी कार्य नही हो पाया, डॉ. दानू ने अपने कार्यकाल में अपने जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर व अथक प्रयास कर पुल की वित्तीय स्वीकृति करवाकर कार्य शुरू करवाने हेतु टेंडर प्रक्रिया शुरू की गई। उन्होंने कई क्षेत्रों में जहां दूरसंचार नेटवर्क पहुंचाना बहुत मुश्किल कार्य था, घेस हिमनी बलाण पिनाउँ क्षेत्र में 2 जिओ के टावर लगाए व सरकार से सहयोग व लगातार उच्च स्तर तक बात पहुँचाकर संपर्क सहयोग समन्वय करके BSNL के छह टावर स्वीकृत कर शीघ्र कार्य शुरू करने हेतु प्रयास किये जा रहे है

 हाल ही में स्वास्थ्य सुविधाओं चिकित्सालय तथा चिकित्सकों की उपस्थितियों का औचक निरीक्षण किया ताकि जनता को स्वास्थ्य सुविधाओं में दिक्कतों का सामना न करना पड़े। स्कूलों में औचक निरीक्षण कर, स्कूलों की व्यवस्था, शिक्षा व्यवस्था में सुधार कार्य करते हुए बच्चों के साथ रूबरू हुए। 

हर गरीब पात्र लाभार्थी को जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ उनके घर में ही मिले, इसके लिए पहली बार सुदूर क्षेत्र में बहुउद्देशीय कैंप स्वास्थ्य कैम्प का आयोजन करवाया। 

कोविड़ के दौरान जब शराब की दुकानें खुली थी, क्षेत्र की समस्त महिलाओं के सहयोग से शराब की दुकानें बंद करने का आंदोलन देवाल में चलाया उस समय भी पुलिस गिरफ्तार करके ले गई । कोविड् के दौरान हर घर तक राहत सामग्री पहुंचाने अपने साथियों सहित 46 ग्राम पंचायतों में स्वयं गए व राहत सामग्री पहुचाई 

 आमजन के साथ सहज तरीके से उनके मिलने का व्यवहार हो, हर शादी समारोह में या किसी के घर में दुर्घटना अथवा मृत्यु होने पर दुख की घड़ी में पहुंचकर उनको सहयोग करना हो, अथवा किसी की मामूली समस्या को भी अपनी समस्या समझकर उसका निदान करने का प्रयास करना हो ये उनकी प्राथमिकता रही है

युवाओं के लिए डॉ. दर्शन दानू हमेशा ” यूथ आइकन” रहे हैं उनके साथ रहने वाले हर कोई उनकी यही तारीफ करते हैं जो इतनी जगहों पर जाते हैं जहां पर सिगरेट शराब उनके लिए पीना छोटी सी बात है परंतु आज तक उन्होंने कभी ऐसा नहीं किया, क्योंकि उनकी मां ने उनको मना किया है। मां के प्रति समर्पित भाव हो। 

 सड़क निर्माण कार्य, पुल निर्माण कार्य में त्वरित कार्यवाही करवाने में उनके प्रयास हों या ब्लॉक देवाल में निर्माणाधीन बिल्डिंग में लाइब्रेरी खोलने की सोच उनकी शिक्षा के प्रति अलग सोच हो तमाम् विद्यालयों में शिक्षकों की समस्याओ को दूर करना हो या देवाल में बढ़ते पार्किंग की दुविधा को खत्म करने के लिए मल्टीपार्किंग सुविधा हेतु कराने में हुई स्वीकृति में उनके प्रयास हों या फिर पर्यटन की दृष्टि से खूबसूरत देवाल में पहली बार “घेस नगाड़ा ट्रैक को”, ट्रैक ऑफ द ईयर घोषित करवाना एवं जिलाधिकारी चमोली के साथ ट्रैक पर जाना ताकि ट्रैक को पर्यटन की दृष्टि से और सुविधाजनक बनाकर पर्यटन को बढ़ावा देकर स्वरोजगार की और लोगों को मोड़ा जा सके, में उनके प्रयास हों। 

 हाल ही में दानू जी ने महिला दिवस पर महिला समूहों के माध्यम से पहली बार देवाल में “अपणु बाजार” शुरू करवाया। ताकि महिला समूह के उत्पादों को बाजार मिल सके एवं स्थानीय जनता को सब्जियों एवं अन्य सामानों के लिए बाहरी बाजार पर निर्भर न रहना पड़े व रोजगार के अवसर सृजित होंगे इतना ही नहीं उन्होंने रामलीला मंचन हरमल में आयोजन पर बिजली बार-बार जाने पर कार्यक्रमो में रुकावट ना हो इसके लिए अपने 6 माह के मानदेय से जनरेटर खरीद कर ग्रामवासियो को समर्पित किया गरीब परिवारों की शादी में सहयोग करना उनके लिए पुण्य कार्य हमेशा किया जाता है। 

 डॉ दर्शन दानू ने अपने इस छोटे से कार्यकाल में पर्वतीय जनता की स्वास्थ्य, चिकित्सा, सड़क, शिक्षा, पर्यटन, रोजगार, शराब विरोधी, आपदा राहत, निर्माण कार्य एवम सहयोग जैसे अनेक कार्य किए और वह भी तब किए हैं, जब वह सिर्फ एक ब्लॉक प्रमुख हैं। 

 ब्लॉक प्रमुखों को त्रिस्तरीय पंचायत में ग्राम पंचायत एवं जिला पंचायत के सापेक्ष कम वित्तीय और प्रशासनिक शक्तियां हैं। और ना ही कोई निधि जिसका उपयोग कर सके । 

 तभी तो, उनके इन्ही गुणों के कारण एक युवा ऊर्जावान और शिक्षित नेता को क्षेत्र के कुछ अन्य नेता नहीं चाहते हैं कि वह काम की राजनीति करें। 

 हमारा इतिहास भी गवाह है जब जब महान लोगों ने अच्छे कार्य किए उनको अनेकों मुसीबतों का सामना करना पड़ा। जिस तरह से डॉ. दानू के खिलाफ FIR दर्ज की गई उसको पढ़कर ही स्पष्ट हो रहा है कि FIT दबाव में लिखी गई है। FIR में लिखा है कि कंपनी ने दिसंबर 2022 में कार्य शुरू किया और दानू कार्य रोकने के लिए फरवरी 2022 में धमकाने आया, जब कार्य दिसंबर में शुरू हुआ तो फरवरी में धमकाने कैसे आ सकता है। दूसरी बात घटना जब फरवरी 2022 की है जिस ऑपरेटर को मारने पीटने की बात 26 जून को की गई उसने उसी तिथि को रिपोर्ट दर्ज क्यों नही कराई गयी , 14 दिन बाद क्यों रिपोर्ट दर्ज की गई,…….?

उसमे लिखा है दानू शराब के नशे में आया था सच्चाई ये है कि उन्होंने आज तक कभी शराब छुई तक नही है इससे प्रतीत होता है ये दानू के खिलाफ राजनीति षड्यन्त्र करके FIR कराई गई है

फिर भी डॉ. दानू की छवि सोशल मीडिया के माध्यम से खराब की जा रही है । इन तथ्यों को देखकर तो यही लग रहा है कि दानू के खिलाफ राजनीतिक षड्यंत्र किया जा रहा है । 

 यही कारण है कि राजनीति में युवा आने से कतराते हैं अगर हम लोग भी इस समय तथ्यों को न देखकर, दानू के विरोध में हो जाय, तो राजनीति, सिर्फ आरक्षण, भाई भतीजावाद, परिवारवाद, तक ही सीमित रहेगी।

 डॉ. दानू इस मुकाम तक किसी आरक्षण, राजनीतिक संरक्षण, से नहीं पहुंचे बल्कि उन्होंने अपने कार्यों से अपनी मेहनत से अपने व्यवहार से यह पहचान बनाई है और आज उनकी पहचान को खत्म करने की साजिश देवाल की जनता को स्वीकार नहीं है। 

 अगर उन्होंने जनता के लिए काम करके गुनाह किया है, तो मुझे लगता है कि इस गुनाह के लिए हमारे लोकप्रिय प्रमुख दानू जी हजार बार जेल जाने को तैयार है क्योंकि जनता के हितों के लिए काम करना उनका जुनून है, सुकून है, जश्न है और जीवन है । 

 “हमारा भाई दोस्त दानू शेर है हमे गर्व है अपने प्रमुख पर”  

इसलिए राजनीतिक षड्यंत्र करने वालो अगर यह सोचते हो, कि ऐसा करने से वह एक युवा, शिक्षित, दूरदर्शी सोच के नेता को राजनीति से हटाएंगे तो यह उनकी गलती होगी क्योंकि …. लोहा जितना तपता है, उतना ही प्रखर निखरता है।

Sharing Is Caring:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *